Cochin Shipyard Share Price : शेयर मार्केट में हो रही है उथल-पुथल जानिए क्या है मार्केट का हाल


शेयर (Share) 20 प्रतिशत बढ़कर 802.40 रुपये के एक साल के समायोजित उच्च मूल्य पर पहुंच गया। काउंटर पर भारी ट्रेडिंग वॉल्यूम देखा गया क्योंकि बीएसई पर 10.24 लाख शेयरों (Shares) में बदलाव देखा गया। यह आंकड़ा दो सप्ताह के औसत वॉल्यूम 95,000 शेयरों से कहीं अधिक था।

कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड के शेयरों (Shares) ने बुधवार को कारोबारी सत्र के दौरान एक्स-स्टॉक स्प्लिट कारोबार किया। स्टॉक को 10 रुपये अंकित मूल्य से 5 रुपये अंकित मूल्य वाले दो शेयरों में विभाजित किया गया था। बाद में दिन में, शेयर  (Shares) 20 प्रतिशत बढ़कर 802.40 रुपये के एक साल के समायोजित उच्च मूल्य पर पहुंच गया। काउंटर पर भारी ट्रेडिंग वॉल्यूम देखा गया क्योंकि बीएसई पर 10.24 लाख शेयरों (Shares) में बदलाव देखा गया। यह आंकड़ा दो सप्ताह के औसत वॉल्यूम 95,000 शेयरों से कहीं अधिक था।

काउंटर पर टर्नओवर 77 करोड़ रुपये रहा, जिसका बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) 21,109.60 करोड़ रुपये रहा।

जेएम फाइनेंशियल के कार्यकारी निदेशक और फंड मैनेजर ने मजबूत ऑर्डर बुक को देखते हुए रक्षा क्षेत्र से कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड को पसंद किया।

कंपनी, जिसके पास पिछले साल 30 सितंबर तक 22,000 करोड़ रुपये की जहाज निर्माण ऑर्डर बुक थी, (Share Market) ने हाल ही में कहा कि उसने रक्षा मंत्रालय के साथ 488.25 करोड़ रुपये के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं।

कोचीन शिपयार्ड ने कहा कि कार्य पैकेज में नौसेना पोत पर उपकरण और प्रणालियों की मरम्मत और रखरखाव शामिल है। स्टॉक एक्सचेंजों को बताया गया कि MoD से आवश्यकता की मंजूरी (AoN) के आधार पर वित्त वर्ष 24 की दूसरी तिमाही के दौरान इस पर काम शुरू हो चुका है और वित्त वर्ष 2025 की पहली तिमाही तक पूरा होने की उम्मीद है।

कंपनी वाणिज्यिक और रक्षा जहाज निर्माण और मरम्मत दोनों के लिए भारत में प्रमुख शिपयार्ड रही है। कंपनी के अनुसार, अपनी अखिल भारतीय उपस्थिति के साथ यार्ड देश भर में जहाज निर्माण और मरम्मत के लिए अपने पदचिह्नों का विस्तार करने और एक बड़ा पारिस्थितिकी तंत्र (Share) विकसित करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

काउंटर 5-दिवसीय, 10-, 20-, 30-, 50-, 100-, 150-, 200-दिवसीय सरल चलती औसत (एसएमए) से अधिक पर कारोबार कर रहा था। काउंटर का 14-दिवसीय सापेक्ष शक्ति सूचकांक (आरएसआई) 75.77 पर आया। 30 से नीचे के स्तर को ओवरसोल्ड के रूप में परिभाषित किया गया है जबकि 70 से ऊपर के मूल्य को ओवरबॉट माना जाता है।

कंपनी के स्टॉक का मूल्य-से-इक्विटी (पी/ई) अनुपात 37.74 है जबकि मूल्य-से-बुक (पी/बी) मूल्य 3.73 है।

पिछले साल दिसंबर तक कंपनी में प्रमोटर्स की 72.86 फीसदी हिस्सेदारी थी।

सबसे जरूरी बात (Important Notice) -

सबसे जरूरी बात यह कि इसी तरह की ढेर सारी खबरों के लिए आप इस वेबसाइट पर लगातार विजिट करते रहें। हम देश दुनिया की तमाम खबरें आपसे साझा करते रहते हैं और आप चाहें तो हमारे टेलीग्राम चैनल को भी जॉइन कर सकते हैं जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है।

Previous Post Next Post

फास्टर अप्डेट्स के लिए जुड़िये हमारे टेलीग्राम चैनल से - यहाँ क्लिक करिये
CLOSE ADVERTISEMENT